BIOGRAPHY

अर्जुन तेंदुलकर के बारे में जानिए ये 5 शानदार बाते ! Arjun Tendulkar Biography In Hindi

Arjun Tendulkar Biography In Hindi मास्टर बलास्टर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर श्रीलंका में जो चार दिवसीय मैचों के लिए चुनी गई अंडर-19 टीम का हिस्सा हैं. अपने पिता सचिन तेंदुलकर के विपरीत अर्जुन तेंदुलकर बाएं हाथ के बल्लेबाज है. भारतीय खेल के इतिहास में उन्हें जूनियर तेंदुलकर के रूप में संबोधित किया जा रहा है. वास्तव में ऐसे तथाकथित आलोचकों को भारतीय क्रिकेट के सिस्टम और चयन व्यवस्था को अभी भी समझना बाकी है. लोग अर्जुन के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी पाने के लिए उत्सुक हैं. आइए हम आपको जूनियर तेंदुलकर के बारे में सब कुछ बताते हैं.

Arjun Tendulkar Biography In Hindi

 

अर्जुन तेंदुलकर के बारे में जानिए ये 5 शानदार बाते ! Arjun Tendulkar Biography In Hindi

अर्जुन तेंदुलकर का परिचय

अर्जुन तेंदुलकर का जन्म 24 सितंबर, 1999 को मुंबई में ही हुआ. वो मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में पैदा हुए. उन्होंने अपनी स्कूलिंग मुंबई के मशहूर धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल से की है. इनकी माँ अंजलि तेंदुलकर पेशे से बाल रोग विशेषज्ञ है. अर्जुन की एक बड़ी बहन सारा तेंदुलकर अर्जुन से 2 साल बड़ी है. सचिन भी चाहते है कि उनका बेटा एक अच्छा क्रिकेटर बने और भारत के लिए खेले.

अर्जुन तेंदुलकर की शिक्षा

अर्जुन तेंदुलकर ने मुंबई के धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल से शिक्षा ग्रहण की है. अर्जुन जब छोटे थे तो अक्सर अपने पिता के साथ मैदान पर नजर आया करते थे. उन्हें शुरू से ही इस खेल में अपनी पिता जितनी ही रुचि है तभी तो जब वो सिर्फ 8 साल के थे तो सचिन ने उन्हें क्रिकेट एकेडमी जॉइन करवा दी थी. अर्जुन ने अपना पहला मैच साल 2010 में अंडर-13 लेवल पर खेला. ज्यादातर इस स्कूल में अमीर लोगों के बच्चे ही पढ़ते है.

करियर की शुरुआत

अर्जुन के पिता सचिन तेंदुलकर ने कई इंटरव्यू में कहा है कि जब वो छोटे थे तो एक फास्ट गेंदबाज बनना चाहते थे मगर बाद में वो दुनिया के सबसे महान बल्लेबाज बने.उनके पिता सचिन प्रसिद्ध खेल व्यक्तित्व होने के बावजूद भी कभी भी उन्होने अपने बेटे के करियर चयन में दबाव नहीं बनाया. अर्जुन के परिवार वाले उन्हें हमेशा प्रोत्साहित करते है. अर्जुन गेंद को स्विंग कराते हैं. ये जानकर आपको हैरानी होगी कि अर्जुन सचिन को अपना आइडल क्रिकेटर नहीं मानते.

  • अर्जुन जब 8 साल के थे तब से ही उनके पिता सचिन ने उन्हें क्रिकेट कोचिंग क्लब में डाल दिया.
  • अर्जुन ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क और इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स को अपना रोल मॉडल मानते हैं.
  • 2014 में उन्हें बीसीसीआई टूर्नामेंट अंडर -14 मैच में पश्चिमी जोन लीग मैच मुम्बई में खेलने के लिए चुना गया था.

यह भी जरुर पढ़े :-

About the author

rohit singh

Writes high-quality content articles on various topics such as local politics, ancient cultures, social media, environmental issues, youth, social issues, and general society

Leave a Comment

error: Content is protected !!