HINDI KAVITA

15 अगस्त पर सर्वश्रेष्ठ देशभक्ती गीतों का संग्रह Desh Bhakti Songs In Hindi

Desh Bhakti Songs In Hindi हेल्लो दोस्तों आज मै आपके सामने 15 अगस्त पर सर्वश्रेष्ठ देशभक्ती गीतों का संग्रह लेकर हाजिर हूं . इस सभी गीतों से एक बार आपका प्यार अपने देश पर आएगा , और आपको ऐसा महसूस होगा की काश आप एक सैनिक होते .

Desh Bhakti Songs In Hindi

15 अगस्त पर सर्वश्रेष्ठ देशभक्ती गीतों का संग्रह Desh Bhakti Songs In Hindi

1 ) कर चले हम फ़िदा जान-ओ-तन साथियों 

कर चले हम फ़िदा जान-ओ-तन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों – (२)

साँस थमती गई नब्ज़ जमती गई
फिर भी बढ़ते कदम को न रुकने दिया
कट गये सर हमारे तो कुछ ग़म नहीं
सर हिमालय का हमने न झुकने दिया
मरते मरते रहा बाँकापन साथियों, अब तुम्हारे …

ज़िंदा रहने के मौसम बहुत हैं मगर
जान देने की रुत रोज़ आती नहीं
हुस्न और इश्क़ दोनों को रुसवा करे
वो जवानी जो खूँ में नहाती नहीं
बाँध लो अपने सर पर कफ़न साथियों, अब तुम्हारे …

राह क़ुर्बानियों की न वीरान हो
तुम सजाते ही रहना नये क़ाफ़िले
फ़तह का जश्न इस जश्न के बाद है
ज़िंदगी मौत से मिल रही है गले
आज धरती बनी है दुल्हन साथियों, अब तुम्हारे …

खींच दो अपने खूँ से ज़मीं पर लकीर
इस तरफ़ आने पाये न रावण कोई
तोड़ दो हाथ अगर हाथ उठने लगे
छूने पाये न सीता का दामन कोई
राम भी तुम तुम्हीं लक्ष्मण साथियों, अब तुम्हारे …

 

2 ) ऐ मेरे वतन के लोगों

ऐ मेरे वतन के लोगों
तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन है हम सब का
लहरा लो तिरंगा प्यारा
पर मत भूलो सीमा पर
वीरों ने है प्राण गँवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो -२
जो लौट के घर न आये -२

ऐ मेरे वतन के लोगों
ज़रा आँख में भर लो पानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी

जब घायल हुआ हिमालय
खतरे में पड़ी आज़ादी
जब तक थी साँस लड़े वो
फिर अपनी लाश बिछा दी
संगीन पे धर कर माथा
सो गये अमर बलिदानी
जो शहीद…

जब देश में थी दीवाली
वो खेल रहे थे होली
जब हम बैठे थे घरों में
वो झेल रहे थे गोली
थे धन्य जवान वो आपने
थी धन्य वो उनकी जवानी
जो शहीद…

कोई सिख कोई जाट मराठा
कोई गुरखा कोई मदरासी
सरहद पर मरनेवाला
हर वीर था भारतवासी
जो खून गिरा पवर्अत पर
वो खून था हिंदुस्तानी
जो शहीद…

थी खून से लथ-पथ काया
फिर भी बन्दूक उठाके
दस-दस को एक ने मारा
फिर गिर गये होश गँवा के
जब अन्त-समय आया तो
कह गये के अब मरते हैं
खुश रहना देश के प्यारों
अब हम तो सफ़र करते हैं
क्या लोग थे वो दीवाने
क्या लोग थे वो अभिमानी
जो शहीद…

तुम भूल न जाओ उनको
इस लिये कही ये कहानी
जो शहीद…

जय हिन्द… जय हिन्द की सेना \-२
जय हिन्द, जय हिन्द, जय हिन्द

 

3 ) देस रंगीला रंगीला देस मेरा रंगीला….

यहा हर कदम कदम पे धरती बदले रंग
यहा की बोली मे रंगोली सात रंग
यहा हर कदम कदम पे धरती बदले रंग
यहा की बोली मे रंगोली सात रंग
धानी पगड़ी पहने मौसम है
नीली चादर ताने अम्बर है
नदी सुनहरी हरा समुन्दर है रे सजीला
देस रंगीला रंगीला देस मेरा रंगीला….

सिन्दूरी गालो वाला सूरज जो करे ठिठोली
शर्मीले खेतो को ढंक दे चुनर पीली पीली
घूंघट मे रंग पनघट मे रंग चम् चम् चमकीला
देस रंगीला रंगीला देस मेरा रंगीला..

अबिल गुलाल से चेहरे है यहां मस्तानो की टोली
रंग हसी मे रंग ख़ुशी मे रिश्ते जैसे होली
बातो मे रंग यादो मे रंग रंग रंग रंगीला
देस रंगीला रंगीला देस मेरा रंगीला..

इश्क का रंग यहां पर गहरा चढ़ के कभी न उतरे
सछे प्यार का ठहरा सा रंग छलके पर न बिखरे
रंग अदा मे रंग हया मे है रसीला
देस रंगीला रंगीला देस मेरा रंगीला..

यहां हर कदम कदम पे धरती बदले रंग
यहां की बोली मे रंगोली सात रंग
धानी पगड़ी पहने मौसम हैं
नीली चादर ताने अम्बर हैं
नदी सुनहरी हरा समुन्दर है रे सजीला
देस रंगीला रंगीला देस मेरा रंगीला..
हो रंगीला रंगीला देस मेरा रंगीला
देस रंगीला रंगीला देस मेरा रंगीला….

 

4 ) ये देश है वीर जवानों

ये देश है वीर जवानों का अलबेलों का मस्तानों का
ओ …
ओ … अति वीरों की
ये देश है वीर जवानों का
अलबेलों का मस्तानों का
इस देश का यारों … होय!!
इस देश का यारों क्या कहना
ये देश है दुनिया का गहना

ओ… ओ…
यहाँ चौड़ी छाती वीरों की
यहाँ भोली शक्लें हीरों की
यहाँ गाते हैं राँझे … होय!!
यहाँ गाते हैं राँझे मस्ती में
मस्ती में झूमें बस्ती में

ओ… ओ…
पेड़ों में बहारें झूलों की
राहों में कतारें फूलों की
यहाँ हँसता है सावन … होय!!
यहाँ हँसता है सावन बालों में
खिलती हैं कलियाँ गालों में

ओ… ओ…
कहीं दंगल शोख जवानों के
कहीं कर्तब तीर कमानों के
यहाँ नित नित मेले … होय!!
यहाँ नित नित मेले सजते हैं
नित ढोल और ताशे बजते हैं

ओ… ओ…
दिलबर के लिये दिलदार हैं हम
दुश्मन के लिये तलवार हैं हम
मैदां में अगर हम … होय!!
मैदां में अगर हम दट जाएं
मुश्किल है के पीछे हट जाएं

 

 

5 ) मेरा रंग दे बसंती

मेरा रंग दे..
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला रंग दे, रंग दे..
रंग दे बसंती चोला माये रंग दे

निकले हैं वीर जिया ले
यूँ अपना सीना ताने
हंस-हंस के जान लुटाने
आज़ाद सवेरा लाने
मर के कैसे जीते हैं, इस दुनिया को बतलाने
तेरे लाल चलें हैं माये, अब तेरी लाज बचाने

मर के कैसे जीते हैं, इस दुनिया को बतलाने
तेरे लाल चलें हैं माये, अब तेरी लाज बचाने

आज़ादी का शोला बन के खून रगों में डोला
मेरा रंग दे…
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला रंग दे, रंग दे..
रंग दे बसंती चोला माये रंग दे

दिन आज तो बड़ा सुहाना
मौसम भी बड़ा सुनहरा
हम सर पे बाँध के आये
बलिदानों का ये सेहरा
बेताब हमारे दिल में इक मस्ती सी छायी है
ऐ देश अलविदा तुझको कहने की घडी आई है
महकेंगे तेरी फिज़ा में हम बन के हवा का झोंका
किस्मत वालों को मिलता ऐसे मरने का मौका

निकली है बरात सजा है इंक़लाब का डोला
मेरा रंग दे…
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला रंग दे, रंग दे..
रंग दे बसंती चोला माये रंग दे..

 

 

6 ) जहाँ डाल डाल पर

जहाँ डाल डाल पर

सोने की चिड़ियां

करती है बसेरा

वो भारत देश है मेरा

वो भारत देश है मेरा

गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णुः

गुरुर्देवो महेश्‍वरः।

गुरु साक्षात्‌ परब्रह्म

तस्मै श्रीगुरुवे नमः॥

जहाँ सत्य, अहिंसा और धर्म का

पग-पग लगता डेरा

वो भारत देश है मेरा

वो भारत देश है मेरा

जय भारती, जय भारती,

जय भारती, जय भारती

ये धरती वो जहाँ ऋषि मुनि

जपते प्रभु नाम की माला

हरी ॐ, हरी ॐ,

हरी ॐ, हरी ॐ

जहाँ हर बालक इक मोहन है

और राधा हर इक बाला

और राधा इक इक बाला

जहाँ सूरज सबसे पहले

आ कर डाले अपना फेरा

वो भारत देश है मेरा

वो भारत देश है मेरा

जहाँ गंगा, जमुना, कृष्ण

और कावेरी बहती जाए

जहाँ उत्तर, दक्षिण, पूरब, पश्चिम को

अमृत पिलवाये ये अमृत पिलवाये

कहीं ये फल और फूल उगाये,

केसर कहीं बिखेरा

वो भारत देश है मेरा

वो भारत देश है मेरा

अलबेलों की इस धरती के

त्योहार भी हैं अलबेले

कहीं दीवाली की जगमग है,

होली के कहीं मेले

जहाँ राग रंग और हँसी खुशी का

चारों ओर है घेरा

वो भारत देश है मेरा

वो भारत देश है मेरा

जहाँ डाल-डाल पर

सोने की चिड़ियां

करती है बसेरा

वो भारत देश है मेरा

वो भारत देश है मेरा

जहाँ आसमान से बातें करते

मंदिर और शिवाले

किसी नगर मे किसी द्वार पर

कोई न ताला डाले

और प्रेम की बंसी जहाँ बजाता

आये शाम सवेरा

वो भारत देश है मेरा

वो भारत देश है मेरा

जहाँ सत्य, अहिंसा और धर्म का

पग-पग लगता डेरा

वो भारत देश है मेरा

वो भारत देश है मेरा

जय भारती, जय भारती,

जय भारती, जय भारती

 

 

7 ) विजयी विश्व तिरंगा प्यारा

 

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा )-२
झण्डा ऊँचा रहे हमारा
सदा शक्ति बरसानेवाला
प्रेम सुधा सरसानेवाला
वीरों को हर्षानेवाला
मात्ऱ्भूमि का तन\-मन सारा -२
झण्डा ऊँचा …

स्वतन्त्रता के भीषण रण में
रख (लख?) कर जोश बढ़े क्षण क्षण में
काँपे शत्रु देख कर मन में
मिट जावे भय संकट सारा -२
झण्डा ऊँचा …

इस झण्डे के नीचे निर्भय
हो स्वराज जनता का निश्चय
बोलो भारत माता की जय
स्वतन्त्रता ही ध्येय हमारा -२
झण्डा ऊँचा …

शान न इस की जाने पावे
चाहे जान भले ही जावे
विश्व विजय कर के दिखलावे
तब होवे प्रण पूर्ण हमारा -२
झण्डा ऊँचा …

 

तो दोस्तों 15 अगस्त पर सर्वश्रेष्ठ देशभक्ती गीतों का संग्रह Desh Bhakti Songs In Hindi आपको पसंद आए होंगे . धन्यवाद् .

यह भी जरुर पढ़े :-

 

About the author

Srushti Tapase

मेरा नाम सृष्टि तपासे है और मै प्यारी ख़बर की Co-Founder हूं | इस ब्लॉग पर आपको Motivational Story, Essay, Speech, अनमोल विचार , प्रेरणादायक कहानी पढ़ने के लिए मिलेगी |
आपके सहयोग से मै अच्छी जानकारी लिखने की कोशिश करुँगी | अगर आपको भी कोई जानकारी लिखनी है तो आप हमारे ब्लॉग पर लिख सकते हो |

1 Comment

Leave a Comment

error: Content is protected !!