BIOGRAPHY

बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल का जीवन परिचय Saina Nehwal Biography In Hindi

Saina Nehwal Biography In Hindi साइना नेहवाल भारत की प्रसिद्ध बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। साइना नेहवाल भारत सरकार द्वारा पद्म श्री, पद्म भूषण और भारत का सर्वोच्च खेल पुरस्कार राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित हो चुकी हैं। लंदन ओलंपिक 2012 में साइना नेहवाल ने इतिहास रचते हुए बैडमिंटन की महिला एकल स्पर्धा में कांस्य पदक हासिल किया। बैडमिंटन में ऐसा करने वाली साइना नेहवाल भारत की पहली खिलाड़ी हैं।

Saina Nehwal Biography In Hindi

बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल का जीवन परिचय Saina Nehwal Biography In Hindi

साइना बीजिंग ओलंपिक 2008 में भी क्वार्टर फाइनल तक पहुँची थीं। वह विश्व कनिष्ठ बैडमिंटन चैम्पियनशिप जीतने वाली पहली भारतीय हैं। साइना नेहवाल बैडमिंटन की विश्व रैंकिग में वर्तमान में शीर्ष स्थान पर हैं। साइना नेहवाल 28 मार्च, 2015 को दुनिया की नंबर वन रैंकिंग हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई जब स्पेन की कैरोलिना मारिन यहां इंडिया ओपन सुपर सीरिज सेमीफाइनल में हार गईं।

जीवन परिचय :-

साइना नेहवाल का जन्म 17 मार्च, 1990 को हिसार, हरियाणा में हुआ। माता-पि‍ता दोनों ही बैडमिंटन खि‍लाड़ी होने के कारण साइना नेहवाल की रुचि बचपन से ही बैडमिंटन में थी। उनके पिता हरवीर सिंह ने बेटी की रुचि को देखते हुए उसे पूरा सहयोग और प्रोत्‍साहन दि‍या। 8 वर्ष की आयु में ही बैडमिंटन खेलना शुरू करने वाली साइना नेहवाल को भारत सरकार द्वारा पद्म श्री, पद्म भूषण और राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। साइना का प्रारम्भिक प्रशि‍क्षण हैदराबाद के लाल बहादुर स्‍टेडि‍यम में कोच नानी प्रसाद के संरक्षण में हुआ।

खेल उपलब्धियाँ :-

1. साइना नेहवाल ने वर्ष 2005 में एशियन सेटेलाइट बैडमिंटन जूनियर चेक ओपन का ख़िताब जीता।

2. साइना नेहवाल दो बार सीनियर नेशनल चैंपियनशिप में रनर-अप रहीं।

3. 2005 में राष्ट्रमंडल युवा खेलों की स्पर्धा में उन्होंने सात पदक जीतने में सफलता प्राप्त की।

4. साइना नेहवाल ने 2006 में एशि‍यन सैटलाइट चैंपि‍यनशि‍प जीती।

5. 2006 में मनीला में फिलीपिंस ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप जीत कर इतिहास रच डाला।

6. साइना का नाम विश्व इतिहास में 21 जून, 2009 को लिखा गया, जब उन्होंने इंडोनेशियाई ओपन जीतते हुए सुपर सीरिज बैडमिंटन टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया। यह उपलब्धि उनसे पहले 7. किसी अन्य भारतीय महिला को हासिल नहीं हुई।

8. 2010 में ऑल इंग्लैड बैंडमिटन के सेमीफाइनल में पहुँचने वाली पहली भारतीय महिला होने का गौरव प्राप्त किया। उसके बाद चीन के ‘लिन वांग’ को जकार्ता में हराकर सुपर सीरीज़ टूर्नामेंट जीता।

9. साइना अब तक तीन बार (2009, 2010 और 2012) इंडोनेशिया ओपन टूर्नामेंट जीत चुकी हैं।

10. साइना नेहवाल ओलम्पिक 2012 में कांस्य पदक जीतने वाली पहली भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी बनीं।

11. 2012 में साइना नेहवाल ने डेनमार्क ओपन खिताब जीता।

सम्मान और पुरस्कार :-

1. लंदन ओलंपिक 2012

2. अर्जुन पुरस्कार (2009)

3. राजीव गाँधी खेल रत्न (2009–2010)

4. पद्म श्री (2010)

5. पद्म भूषण (2016)

पदक रिकार्ड :-

1. विजेता, ऑस्ट्रेलियन ओपन सुपर सीरीज 2016

2. विजेता, इंडिया ओपन सुपर सीरिज 2015

3. विजेता, चाइना ओपन सुपर सीरिज 2014

4. विजेता, ऑस्ट्रेलियन ओपन सुपर सीरीज 2014

5. कांस्य पदक, उबेर कप 2014, दिल्ली

6. कांस्य पदक, लंदन ओलंपिक 2012

7. कांस्य पदक, एशियन चैंपियनशिप 2010, दिल्ली

8. स्वर्ण पदक, राष्ट्रमंडल खेल 2010, दिल्ली (एकल)

9. रजत पदक, राष्ट्रमंडल खेल 2010, दिल्ली (मिश्रित)

10. स्वर्ण पदक, वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप 2008, पुणे

11. कांस्य पदक, राष्ट्रमंडल खेल 2006, मेलबर्न

यह भी जरुर पढ़िए :-

Pramod Tapase

मेरा नाम प्रमोद तपासे है और मै इस ब्लॉग का SEO Expert हूं . website की स्पीड और टेक्निकल के बारे में किसी भी problem का solution निकलता हूं. और इस ब्लॉग पर ज्यादा एजुकेशन के बारे में जानकारी लिखता हूं .

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close